रंगारंग कार्यक्रमों के साथ देहरादून में वसंत मेला शुरू

देहरादून के भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल (आईटीबीपी) परिसर में बुधवार को वसंत मेले का रंगारंग आगाज हुआ. आईटीबीपी के हिमवीरों ने हैरतंगेज करतब दिखाए और वहां मौजूद लोगों की आंखें फटी की फटी रह गईं. उधर मथुरा से आए कलाकारों ने रासलीला का मंचन कर हर किसी को मंत्रमुग्ध कर दिया.

आईटीबीपी के पंडित गौतम कौल स्टेडियम में मेले के पहले दिन सबसे पहले आईटीबीपी के बलों ने बीन व ब्रास बैंड की शानदार प्रस्तुति दी और इसके बाद हिमवीरों ने कराटे के करतब दिखाए. इस दौरान हिमवीरों ने आग के गोले से सुरक्ष‍ित निकलने का करतब भी दिखाया जो लोगों को बहुत पसंद आया.

मथुरा से आए श्री गिरीराज कृष्ण सांस्कृतिक कला समिति के कलाकारों ने ‘सांवरिया आजा रे आजा…’ और ‘घूंघट उठा…’ जैसे मधुर गीतों पर राधा-कृष्ण का मोहक नृत्य पेश किया, इस रासलीला को देखकर सभी दर्शक भाव-विभोर हो गए. 9 फरवरी तक चलने वाले इस वसंत मेले में कलाकारों ने इसके बाद मयूर नृत्य भी पेश किया.

मेले के उद्घाटन के मौके पर मुख्य सचिव एन. रविशंकर ने कहा, ऐसे कार्यक्रम दूनवासियों और हिमवीरों को आपस में जोड़ने में सहायक होंगे. उन्होंने उत्तराखंड और आईटीबीपी के संबंधों को सालों पुराना बताया है. उन्होंने कहा, राजधानी में बल का क्षेत्रीय मुख्यालय बनने से ये संबंध और मजबूत हुए हैं.

आइटीबीपी के उत्तरी फ्रंटियर के इंस्पेक्टर जनरल आइएस नेगी ने कहा कि आईटीबीपी के जवान कठिन भौगोलिक परिस्थितियों में तैनात रहते हैं. हिमवीर न सिर्फ सीमा की रक्षा कर रहे हैं, बल्कि विपरीत परिस्थितियों और प्राकृतिक आपदाओं के वक्त भी हमेशा मदद के लिए तैयार रहते हैं.