उत्तराखंड के पर्यटन उद्योग के लिए बड़ी खुशखबरी!

देहरादून।… उत्तराखंड में पर्यटन योजनाओं के अंतर्गत अब भवन निर्माण की राह में जमीन की उपलब्धता का रोड़ा बीच में नहीं आएगा. पर्यटन योजनाओं को मूर्त रूप देने और अलग-अलग जिलों में पर्यटक आवास गृहों के निर्माण के लिए सरकार ने पर्यटन विभाग को जमीन खरीदने के उद्देश्य से फंड रिलीज कर दिया है.

सरकार की कोश‍िश है कि राज्य में पर्यटन आजीविका का आधार बने और इससे यहां के स्थानीय युवाओं को रोजगार भी मिले. ताकि उन्हें रोजी रोटी के लिए दूसरे शहरों व राज्यों का रुख ना करना पड़े. सरकार का मानना है कि पर्यटन योजनाओं के जरिये युवाओं को रोजगार देकर पहाड़ों से तेजी से हो रहे पलायन को भी रोका जा सकता है.

इसके लिए राज्य सरकार ऐसे स्थानों को चिन्हित कर उन्हें पर्यटक स्थलों के रूप में विकसित करने की कोशिश कर रही हैं, जहां पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं. सरकार ने अब इस कड़ी में निर्माण कार्य में आ रही बाधाओं को दूर करने का निर्णय लिया है. सरकार ने पर्यटक आवास गृहों के निर्माण में आ रही जमीन की कमी की बाधा को खत्म करने के लिए पर्यटन विभाग को धनराशि मुहैया करा दी है.

उत्तराखंड सरकार में सचिव डॉ. उमाकांत पंवार ने बताया कि फिलहाल एक करोड़ तीस लाख रुपये रिलीज किए गए हैं, ताकि पर्यटन योजनाओं को अमली जामा पहनाने की शुरुआत की जा सके. इसके तहत पर्यटक आवास गृहों के निर्माण के लिए सबसे पहले जमीन खरीदी जाएगी. रुपये मिलने के बाद अब पर्यटन विभाग चिन्हित जगहों पर जमीन खरीद कर पर्यटक आवास गृहों का निर्माण कर सकेगा.