अल्मोड़ा-नैनीताल में LPG संकट, कई जगह महीने भर से गैस नहीं मिली

रानीखेत।… कुमाऊं क्षेत्र के अल्मोड़ा और नैनीताल जिले की सीमा से सटे गांवों में इन दिनों रसोई गैस की भारी किल्लत है. स्थानीय लोगों के अनुसार अफसरों से कई बार शिकायत के बावजूद पिछले कई दिनों से गैस आपूर्ति बंद है.

उधर जलावन की लकड़ी का भी अभाव है, इसके कारण यहां गांवों में चूल्हा जलना भी दूभर हो गया है. स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने दो टूक चेतावनी दी है कि अगर जल्द गैस उपलब्ध न कराई गई तो आंदोलन किया जाएगा.

अल्मोड़ा व नैनीताल जिले की सीमा स्थित रामगढ़ विकासखंड के सुयालबाड़ी क्षेत्र और इससे सटे गांवों में पिछले एक महीने से गैस संकट से लोग परेशान हैं. इससे करीब 600 से 700 उपभोक्ताओं को जबरदस्त परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

यहां लोग कई बार विभागीय अधिकारियों से शिकायत करने की बात कह रहे हैं, लेकिन इंडेन गैस एजेंसी की लापरवाही के कारण प्रभावित इलाकों में आपूर्ति अब तक सुचारू नहीं हो सकी है.

रामगढ़ विकासखंड के साथ ही अल्मोड़ा जिले के दूरस्थ गांवों में भी उपभोक्ताओं को रसोई गैस के लिए महीनों इंतजार करना पड़ रहा है. लेकिन विभाग जनसमस्याओं को गंभीरता से लेने के बजाय पल्ला झाड़ने में ज्यादा विश्वास जता रहा है.

ग्रामीणों ने अब दो टूक शब्दों में चेतावनी दे दी है कि अगर उनकी उपेक्षा बंद नहीं हुई तो जनांदोलन किया जाएगा.