अल्मोड़ा: विकास कार्यों में दिखाई कोताही तो होगी गंभीर कार्रवाई

अल्मोड़ा जिले के लिए मुख्यमंत्री हरीश रावत द्वारा की गई घोषणाओं को पूरा करने में किसी भी तरह की लापरवाही बरते जाने पर गंभीर कार्रवाई की चेतावनी दी गई है. यह चेतावनी किसी और ने नहीं बल्कि जिला मुख्यालय के विकास भवन में अध‍िकारियों की बैठक में आयुक्त कुमाऊं अवनेंद्र सिंह नयाल ने दी है.

नयान ने कहा कि मुख्यमंत्री की घोषणाओं को अधिकारी गंभीरता से लें और कार्य करें. विकास कार्यो में किसी भी प्रकार की अनियमितता बर्दाश्त नहीं होगी. उन्होंने कहा, विकास कार्यों में कहीं कोई कमी मिली तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जिले के जिन क्षेत्रों में पेयजल की समस्याएं है, उन क्षेत्रों का दौरा करके योजनाओं की वास्तविक स्थिति का आकलन तैयार किया जाए. उन्होंने पेयजल महकमे के अधिकारियों को एक हफ्ते के भीतर क्षतिग्रस्त और पूर्ण रूप से बंद योजनाओं की रिपोर्ट तलब करने के निर्देश दिए.

लोक निर्माण विभाग की एडीबी शाखा के अधिकारियों को निर्देश देते हुए आयुक्त ने कहा कि सड़क निर्माण के कार्यों में देरी अब बर्दाश्त नहीं होगी. हर मार्ग का निर्माण तय समय में कर लिया जाना चाहिए. विद्युत विभाग के अधिकारियों को भी उन्होंने खराब ट्रांसफार्मरों को बदलने व लाइनों को दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं.

कृषि विभाग के अधिकारियों से उन्होंने किसानों को समय पर बीज मुहैया कराने और समाज कल्याण विभाग को गौरा देवी कन्या धन योजना के तहत अतिरिक्त बजट की मांग सरकार से करने के निर्देश दिए हैं. उद्योग, पशुपालन, दुग्ध संघ सहित अन्य विभागों को भी विकास कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए गए हैं.