बॉलीवुड के मशहूर गायकों की आवाज में सुनें सुपरहिट गढ़वाली-कुमाऊंनी गाने

हमारे अपने कुमाऊं-गढ़वाल में एक से बढ़कर एक गायक कलाकार हैं. फिर चाहे आप नरेंद्र सिंह नेगी का नाम लें या हीरा सिंह राणा, ललित मोहन जोशी या गजेंद्र राणा का. सभी एक से बढ़कर एक गाने पेश करते रहते हैं. लेकिन पहाड़ी अंचल जितना सुंदर प्राकृतिक रूप से है, उससे भी सुंदर यहां का संगीत है. शायद यही कारण है कि बॉलीवुड के टॉप सिंगर भी यहां की फिल्मों और एलबमों में गाते हुए सुनाई देते हैं.

स्वर कोकिला लता मंगेशकर का गढ़वाली फिल्म ‘रैबर’ के लिए गाया यह गाना खासा मशहूर है. जितनी सुंदर लता मंगेशकर की आवाज है उतने ही सुंदर इस गाने के बोल भी लिखे गए हैं. एक बार इस गाने को सुनेंगे तो बार-बार सुनने को जी चाहेगा.

बॉलीवुड के मशहूर सिंगर सोनू निगम का तो गढ़वाल से ननिहाल का रिश्ता है. उनकी मां शोभा निगम गढ़वाल क्षेत्र की ही रहने वाली थीं. गढ़वाली में गाया सोनू का यह भक्ति गीत आपको सीधे पहाड़ों में नंदादेवी की गोद में ले जाएगा.

‘जगवाल’ गढ़वाली भाषा की पहली फिल्म थी, जो 1983 में रिलीज हुई थी. इस फिल्म में उदित नारायण और अनुराधा पौडवाल ने गाने गाए थे. कई अन्य पहाड़ी गायकों ने भी फिल्म के गानों को अपनी आवाज दी थी.

फिल्म जगवाल का ये गाना बेहद हिट रहा और आज भी कुमाऊं-गढ़वाल के लोग जहां भी रहते हैं, इस गाने को सुनते हुए मिल जाएंगे.

उदित नारायण ने एक संक्ष‍िप्त इंटरव्यू में अपने करियर के शुरुआती दिनों में गाए गढ़वाली फिल्म ‘जगवाल’ का गाना गाकर सुनाया. देखें और सुनें…

सुनें फिल्म में उदित नारायण का गाया पूरा गढ़वाली गाना… दुर्भाग्य से हमें इस गाने का वीडियो नहीं मिल पाया…

लता दीदी ने पहाड़ी फिल्मों में गाना गाया तो उनकी छोटी बहन आशा भोंसले कैसे पीछे रह सकती थीं. आशा ताई ने भी एक एल्बम के लिए ये सुंदर गाना गाया.

बॉलीवुड के मशहूर सिंगर सुरेश वाडेकर ने भी गढ़वाली फिल्म में गाना गाया है. सुनें…