‘नो नेटवर्क’ जोन में अब मिलेगी ‘कनेक्टिविटी’

हल्द्वानी
नेशनल हाइवे पर नेटवर्क की समस्या को बीएसएनएल जल्द दूर करने जा रहा है. इसके लिए ‘नो नेटवर्क’ जोन में कनेक्टिविटी देने को सर्वे का कार्य शुरू कर दिया गया है. सोमवार को रातीघाट जोन में नेटवर्क टेस्टिंग की गई. विभाग जीटीएल कंपनी के टॉवर से क्षेत्र में कनेक्टिविटी देगा.

राष्ट्रीय राजमार्गों पर अक्सर कनेक्टिविटी को लेकर शिकायतें आती हैं. इससे राहगीरों के साथ स्थानीय लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है. कैंची से गरमपानी के बीच पड़ने वाले रातीघाट में किसी कंपनी का नेटवर्क नहीं. बीएसएनएल ने इसे नो नेटवर्क जोन करार दिया है. पहाड़ियों से घिरे होने के कारण क्षेत्र में कनेक्टिविटी मिलने में दिक्कत होती है. रातीघाट में सिग्नल पहुंचाने के लिए बीएसएनएल ने सोमवार को टेस्‍ट कराया.

बीएसएनएल के एजीएम मोबाइल एलएम जोशी ने बताया कि घाटी के ठीक ऊपर पहाड़ पर जीटीएल कंपनी का टॉवर लगा हुआ है. रातीघाट में नेटवर्क उसी टॉवर से दिया जाएगा. इसके लिए सोमवार को टेस्‍टिंग की गई. कंपनी से बीटीएस लगाने के लिए करार किया जा रहा है. जल्द ही रातीघाट क्षेत्र में कनेक्टिविटी चालू कर दी जाएगी. इस जोन के शुरू होने के बाद अन्य नो नेटवर्क जोन को चिन्हित कर कार्यवाही की जाएगी.